क्या मैं अपनी मम्मी को चोद लूँ?- Maa-Beta Ke Beech Chudai Ki Kahaniyan

मेरा नाम प्रशांत है, मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ, बारहवीं क्लास में पढ़ता हूँ।
मैं अन्तर्वासना के सभी प्रबुद्ध पाठकों से अपनी दुविधा का हल चाहता हूँ, आपकी राय लेना चाहता हूँ। मेरी बात को मज़ाक में ना लेकर गम्भीरता से इस पर विचार करके मुझे अपनी सलाह दें।

एक बार मैं स्कूल से जल्दी आ गया तो मैंने देखा कि मेरी मम्मी मेरे पड़ोस के अंकल जो एक सरकारी अफसर हैं, उनके साथ सेक्स कर रही थी, अपनी चूत चुदवा रही थी। वे दोनों उस वक्त बिल्कुल नंगे थे, मम्मी अपने दोनों हाथ बेड के किनारे रख कर घोड़ी बनी हुई थी और अंकल पीछे से उनकी चूत में लन्ड घुसाए हुए थे।
लेकिन मुझे देखते ही वो दोनों घबरा गए और अंकल जल्दी से अपने कपड़े पहन कर चले गए।

मम्मी ने भी फ़टाफ़ट अपनी मैक्सी पहनी और बाथरूम में चली गई और थोड़ी देर बाद मेरे पास आई और कहने लगी- प्लीज बेटा, अपने पापा से कुछ मत कहना!
और मुझे गले लगा लिया।
उन्होंने उस समय मैक्सी पहन रखी थी, मैक्सी के अन्दर ब्रा या पैन्टी महसूस नहीं हो रही थी।

मैंने भी न चाहते हुए उन्हें गले लगा लिया और मेरे हाथ उनकी पीठ पर फिर उनके चूतड़ों पर चलने लगे और मैं उनके चूतड़ सहलाने लगा। इधर मेरे सीने से उनके उरोज दबने लगे और मेरा लण्ड एकदम उनकी चूत को मेक्सी के ऊपर से छूने लगा।
यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

लेकिन अचानक मम्मी मुझसे अलग हो गई… मुझे भी बुरा लगा।
अब मेरी समझ नहीं आ रहा क्या करूँ… एक तरफ मन कर रहा है कि मुझे अपनी मम्मी के साथ सेक्स कर लेना चाहिए और वो
भी मना नहीं कर सकती क्योंकि मैंने उन्हें पड़ोसी अंकल के साथ रंगे हाथों पकड़ा है।
दूसरी तरफ मेरा मन कहता है कि अपनी मम्मी की चूत चुदाई के बारे में सोचना भी गलत है…
अब आप लोग ही बताओ कि मैं क्या करूँ? अपनी राय मुझे जरूर दीजिए।
प्लीज़ मुझे मेल करें। और कहानी के नीचे कमेन्ट्स में भी अपने विचार लिखें। लेकिन अंट शन्ट औछी बातें मत लिखें।
मैं आपका आभारी रहूँगा।

5 thoughts on “क्या मैं अपनी मम्मी को चोद लूँ?- Maa-Beta Ke Beech Chudai Ki Kahaniyan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *