मम्मी ने चुदवाया – Maa-Beta Ke Beech Chudai Ki Kahaniyan

हि रेअदेरस ओफ़ इनदिअन सेक्स सतोरिएस,आज अपमे जीवन कि एक इनसिदेनत आप लोगो के साथ शरे करना चहता हुन। उ अल्ल विल्ल एनजोय थिस। ये बात उस समय कि है जब मेरि उमर 20 साल कि थि और मेरि मोम 34 कि थि। मेरि जवनि शुरु हुइ थि उनकि जवनि के शोलेय भदकते थे। मेरि मोम बहुत सेक्सी और सुनदर है। शे हस गोत अ बेऔतिफ़ुल बोदी शपे 38-32-38। शे हस गोत बिग बूबस अस वेल्ल अस बिग बुत्तोसकस।उनका सुदोल गोरा बदन बहुत हसिन था।

मैं मोम को जब भि देखता तो मुझे उनका सेक्सी फ़िगुरे देखकर मन मे गुदगुदि होति थि। मैने उनको एक दो बर ननगा नहते देखा था। मैं बचपन से हि उनके बेदरूम मे सथ सोता था, तो मोम-दद को कै बर सेक्स करते देखा था वो अनधरे मे सेक्स करते थे लेकिन उनकि आवज आति थि कया मसति से दोनो करते थे, दद धक्का मरते तो मोम अवज़ निकलति और उचल उछल कर सथ देति थि। मैं रत को सोने का नतक कर थोदि जलदि सो जता, फिर दोनो लिघत ओफ़्फ़ कर शुरु हो जते वो समझते कि मैं सो रहा हु, लेकिन मैं सोने का नतक करता था। मैं उनका सेक्सी गमेस देखा करता था, मेरा लुनद खदा हो जता था, बर बर उपर निचे होता था।

मैं भि सोचता मैं भि कैसे इस खेल का अननद लु। येह सोच कर कै बर लुनद खरा जता और रत को मेरे रस झर जता था। एक दो बर तो जब मोम मेरे बगल मे सोयि हुइ थि तो मैं उनसे जन भुज कर चिपक्कर सोता, कभि उनकि तनगो के बिच मे अपनि तनग दल देता,तो उनकि निनद खुलने पर अलग कर देति। मैं सोचता रहता कि मेरे सथ कयो नहि चिपकति, मैने कै बर उनके चुतर पर हाथ फेरता, बूबस भि दबा देता तो वो हथ हता देति थि। मैं मोके कि तलस मे रहता था। कब मज़ा मिलेगा रोज सेक्स देखता था तो मैं नहि एक्ससिते हो जता, एक बर उनहे पता चल गया कि मैने देख लिया है तो अबसे दुसरे रूम मे जकर सेक्स करते थे। मोम कि चुचियो को मैं निहरता था जब भि वो खना परोसति या झुक्कर कम करति तो उनके बूबस कुच उपर उथ जते थे, वो चलति तो उनके हिलते चुतर फनक मे पसि सरी को देखता था, कभि वो नुझे देखति तो अपना पल्लु थिक करति, सरी थिक करति।

मैं बचपन से मोम कि जवनि का शबब और कै रुप देखते आया हु। मैने एक बर मोम कि अलमिरह मे सेक्सी फोतो कि कितब देखि उसमे ननगि औरत मरदो के सेक्स करते हुए तसबीर थि। उसे देखने मे मुझे मजा आता था और देखते देखते लुनद से रस गिर जता था।एक बर कि बात है मेरे दद कोइ बुसिनेस्स तौर पर गये हुए थे, और उस दिन घर पर भि और कोइ नहि था। रत को दिन्नेर के बद मैं और मोम तव पर मोविए देख रहे थे, मोविए मे भि बहुत सेक्सी ससेने थे जो नुझे एक्ससिते कर रहे थे। मोविए के बद फिर सेक्सी गने आने लगे इसि बिच मोम उथ कर चलि गयी थि फिर सबले तव पर बलुए फ़िलम आने लग गयी मैं तो एकदम सुरपरिसे हो गया मैने सुना था कि मिदनिघत मे सबले तव पर सेक्सी बलुए फ़िलम दिखते है, कभि मोका नहि मिला था एक दो बर 2-4 मिनुते देखि थि। आज अछा मोका था सोचा कहिन मोम नहि आ जवे। मैं सोचा मोम रूम मे सोने चलि गयी है और देखा कोइ नहि था मैं चन्नेल चनगे कर बलुए फ़िलम देखने लगा। कया सेक्सी फ़िलम थि औरत मरद को पुरा करते हुए दिखया था। मैने सौनद बनद कर दि थि। अचनक मुझे लगा कि मोम पिछे दरवजे के पस खदि होकर फ़िलम देख रहि है, मैने दबि नजरोन से देख लिया, मोम को भि नहि पता चला कि मैने देखा है। मैने सोचा जब मोम ने देख हि लिया है वो भि देख रहि है तो चलने दो।

दोनो बलुए फ़िलम देख रहे थे। मैने हलकि सौनद भि कर दि । मेरा भि लुनद हरद हो गया था, मैं पजमा पहने हुअ था, मैं उपर से अपने लुनद को सहलता और पकदता था। अचनक मैं पिछे घुमा और मोम को देखकर बोला अरे मोम तुम सोयी नहि, अछा तो अब बैथ कर देख लो, कितनि देर तक खदि रहोगि। वो मेरे पस सोफ़ा पर बैथ गयी। फ़िलम मे अब एक ससेने मे मा बेते का सेक्स दिखा रहा था और दो कितने जोर से चुदै का अननद ले रहे थे उसमे वो औरत उसको बोल बोल कर सेक्स का तरिका बतललर चुदवा रहि थि, मैने वोलुमे थोदा बधया, इसे कम हि रहने दो।

अब मैं मोम कि गोदि मे जनघो पर लेत गया, और फ़िलम देख रहे थे तरह तरह से चुदै के तरिके देखकर मेरा लुनद पजमे मे एकदम खदा था और बेतब हो रखा था जिसे मोम देख रहि थि, मोम ऐसे कुछ झुकि तो उसके बूबस मेरे मुह पर आये तो मैने होथो के बिच उनके बूबस को लिया तो वो,कुच नहि बोलि, फिर मैने और थोदा उपर होकर बूबस का निप्पके दबा दिया, अब तो वो भि फ़िलम देखते देखते वो अह कर रहि थि और अपनि बुर खुजति तो, बूबस को मसलत,इ कभि लिपस आपस मे दबति, कभि लिपस दनत मे दबति, मैं समझ गया कि ये बहुत एक्ससितेद हो गयी है। मोम अपने बलोवसे मे हथ दलति एक बर तो सदि पेतिसोत मे हथ दलकर बुर मे भि अनगुलि कि, मैने पुछा कया हुअ, कहिन दरद है कया, वो मुसकरा दि। मैं उनकि गोद मे लेते लेते उनकि कमर मे हथ फेर रहा था, ननगि कमर थि, पिचे से लोव सुत था, मैं सोचने लगा आज अछा मोका है, शयद चनसे लग जये, त्री करते है।मैने अपने हथ से उनका बुर दबा दिया फिर सरी के उपर से हि उनगुलि से दबने लगा, उसने सिसकरि मरि, अब मैने अब पिसतुरे खतम होकर दुसरा परत शुरु होने वला था मोम बोलि कफ़ि देर हो गयी है सो जओ, बहुत देखल इया अब तव बनद करो, मैं बोला मोम थोदि देर और।अछा लग रहा है, वो उथकर सोने चलि गयी मैं फ़िलम देख रहा था, बदा मज़ा आ रहा था आज मैं भि सोचने लगा आज तो मोविए वले ससेने करना हि है और चुदैका मज़ा लेना है।और मोविए खम होने के बद मैने तव ओफ़्फ़ किया और मैं भि मोम के बगल मे जकर सो गया बोला यहिन सो जता हु।

मैं मोम के बजु मे हि सो गया। और अपना लुनद मसल रहा था। मोम ने अपना मुह गुमा लिया। कुछ देर के के बद मैं ने मेरा हथ मोम के उप्पेर रख दया। मोम के कमर पेर मैने मेरा हथ रखा, मोम का मुह उस तरफ था, मैं थोदा अगे गया और मा कि और चिपका। मेरा लुनद मोम कि गनद को छुने लगा। धिरे धिरे मैने मेरा हथ मा के बूबस पेर रखा और उनहे सेहलने लगा। मुघे लगा मा सो गै है।।लकिन वो सोने का नतक केर रहि थि। मैने धिरे धिरे मेरा हथ मा के पेत से घुमा के मा के सदि मे दला। तभि, मोम ने मेरा हथ पकदा।।और बोला।।? कया कर रहा है तो? और वो सिधि हो गै और अपनि सरी थिक कि। मैं बहुत घबरा गया।।लकिन मा ने बोला।।कया बात है मैं बोला कुछ नहि, तो सो जओ मैने कहा अपको मोविए कैसि लगि वो बोलि ये बदो के लिये है, मैने कहा मज़ा आ रहा था। और बोला आज रहा नहि जा रहा है और लुनद मसलने लगा, मैने फिर मोम के उपर अपनि तनग रखकर चिपक गया और बूबस दबने लगा, उसने अपने बोवसे के उपर के बुत्तोन खोले हुए थे और सिरफ़ एक हि बनद था, मैने कहा मज़ा आता है ना, मोम भि एक्ससिते हो रहि थि। मैने कहा तुमतो दद के सथ भि मोविए के ससेने कि तरह मसति लेति हि, मैने कै बर तुमको सेक्स करते देखा है तोम कैसे चुदवने का मज़ा लेति हो। और मैने उनका बूबस जोर से हथ से दबा दिया वो बोलि कया हो रहा है।

तु पगल है,तु मेरा बेता है,ऐसा नहि हो सकता बोलि तुमहरे पपा को बोल दुनगि, मैने भि कहा मैं बोलुनगा कि अपने मुझे बलुए फ़िलम दिखयी थि और मुझसे लिपत गयी थि और मेरे कपदे जबरदसति उतर दिये थे। वो बोलि चुप हो जा तु बदमस हो गया है। मैने कहा अगर अज अपने सेक्स करेनगे तो मैं किसिसे भि नहि कहुनगा दद से भि नहि, और दोनो को सेक्स का मज़ा मिलेगा नहि तो मैं सबको बोलुनगा। वो बोलि अचा चुप हो जा आज कि बात किसि को नहि बतना।मैने कहा ये तो तेरे मेरे बिच कि बात है। मैने कहा जलदि करो मोविए कि तरह करेनगे।मोविए मे जैसे लदी और वो लदका कर रहे थे। बुस मैने मोम का बलोवसे का हूका खोल दिया कया सेक्सी बलसक बरा थि अब मोम ने अपनि बरा खोल दि और उसके बदे बदे बूब बहर आ गये कया सुनदर मोते मोते, मेरे तो हथ मे नहि आ रहे थे, मैने बूबस को पकद कर जोर जोर से चुसना शुरु किया और बोला इसे तो बचपन मैं चुसता था तो तु कुछ नहि बोलति थि आज नखरे दिखा रहि है तेरि बुर से तो मैं पुरा निकला हु, अभि तो केवल येह 6 इनच का अनदर जयेगा बहुत नखरा मरति है दद के सथ तो उछल उछल कर चुदवति है, तेरि अलमरि मे सेक्सी फोतो और सेक्सी कहनियो के कितब है जिसमे चुदै कि कहनि है मैने सब देखा है, मैं अब खुल गया था।

अब वो भि बोलि अछा येह बत है तो कस के दबओ मैं भि कफ़ि उत्तेजित हो गया और जोश मे अकर उनकि रसीली चुनची से जम कर खेलने लगा। कया बदि बदरि चुनचेअ थी और लुमबे लुमबे निप्पले जोर जोर से दबा कर चुसने लगा उनके पिनक निप्पलेस मोते और बहुत सोफ़त थे। जिभ निकल कर गोल-गोल निप्पले पर घुमा कर चत कर सुसक किया। वो आअह्हह्हह?।।उह्हह्हह?ईईस्सस्सस?मज़ा अ गया बोलि। और पियो ये निप्पलेस। मैने कस कर चुचि दबा दबा कर दोनो निप्पलेस पर जिभ से खुब चता फिर मैने उनके लिपस को अपने लिपस मे लेकर खूब जोर जोर से चूसा उसको मज़ा आ रहा था, बोलि तु तो बदा हि तेज है। और उसने मेरे पजमा का नदा खोल दिया मैने पज़मा और उनदेरवेअर दोनो उतर दिये, मैने भि उनके पेत्तिकोत का नरा खिनच दिया उनहोने पेत्तिसोत और सरी उतर दी।

और मैं उनकि चूत के दरशन कर मसत हो गया पुरा गोरा बदन और उसपर झनत उगि हुइ थि गोरे बदन पर कलि झनत खिल रहि थि उनहोने अपने पैर एक दूसरे पर चदा लिये थे जिस्से कि ननगि होने पर भि उनकि चूत छिप गयि थि मैने तकत के साथ मोम कि चूत पर से उनका पैर हतदिया । अज मोम के बुर पर बदि- बदि झतेन थि,और झतून के अनदेर से झनकता उनका गोरा बुर,।।।मैन तो बस इस बुर को देख कर बेकरर हो गया।मोम तेरि बुर कि झनकि बहुत सुनदर है, तु बहुत सेक्सी है रे,और मोम के उपर बैथ गया, वो बोलि अर्रे मेरे बेता इतनि जलदि कया है ले देख ले जि भर के मेरि चूत को आज इसे मसत कर देना और मेरे पूरे बदन मेन सनसनि होने लगि और मेरा लुनद तन कर खरा हो गया। मोम ने तुरनत हि मेरा लुनद हाथ मेन पकदा और सहलने लगि ।

देखते हि-देखते मेरा लुनद मुसल कि तरह मोता हो गया। बोलि बहुत मोता है रे तेरा येह और उसे बूबस के सथ मसलने लगि। मैने लुनद पकदके उनके मुह के पस ले गया मैं बोला चुसो ना इसको, उसने किस्स कर छोद दिया, मैने कहा मोविए कि तरह इसको जोर जोर से चुसो जैसे वो लदी चुस रहि थि। बोलि मैने कभि नहि चुसा है, मैने कहा इसिलिये तो आज ये भि मज़ा लेना है। उसने कहा अछा इसको थिक से पोछ कर आओ, मैने उसको गिले तोवेल से पोछा और गुलब जल चिरक दिया, फिर मोम को बोला ले अब चूस देरि मत कर मैने लुनद उसके मुह के पस ले गया, उसको गुलब कि खुसबु आयी, वो हलके से मुह मे ली, मैने कहा अनदर तक लेकर चूस नखरा मत कर और लुनद उसके मुह मे घुसा दिया और बोला चल चूस और अब वो चूसने लगि। ।।।।।आअह ह्हह। ।।।।ओह्हह्हह्ह।।।।।।।दोनो के मुनह से तेज़ सिसकरियन निकलने लगिन मैं मोम से बोला,मुझेय बहुत मज़ा आ रहा हेय, तुझे भि आ रहा होगा, इसे लोल्लयपोप कि तरह चुस जोर जोर से। फिर उसने मुह से निकलकर हथ से सहलने लगि, मैं बोला और कैसे तुमहे मज़ा आता है, बोलो तुमहे जयदा एक्सपेरेनसे है।

अ मैं मोम के बूबस दबने लगा, मोम को भि अचा लग रहा था।।उस्से अवजे आ रहि जब मैं मोम के बूबस दबता था और उसके बुर मे उनगलिअया दलता था तब मा बोलति थि।। ?अजीईई, अब्बब्बब्बब बुस भि कर?अप्प मुघे अयसा मत्त तरसाआआअऊऊओ?अब्ब दल्लल्लल्ल भि दूऊ।।और्रर्रर्र कितनाआआअ तरसाओ गे? कयाआ बत है मैने कहा तेरि बुर अभि बैचेन है? ।।? तभि मैने मा को।।पुचा। ? मोम, कया मैं अप्प को चोद सकता हु?? वो बोलि अब पुछता कया है मुझसे नहि रहा जा रहा है और मैने मोम कि तनग फ़ैलयी और अपना मुसल सा लुनद मोम के हसीन बूर मेन एक धक्के के साथ घछह्ह।।।।।से घुसा दिया।।।।उसकि बुर चुदते चुदते फ़ैल गयी थी इसलिये मुझे तकलिफ़ महि हुइ पर वो चिल्लयी।।ऊऔऊउईईइ।।।।।।रे।।।।।मर दिया रे तुने।।।।।मैने कहा कया हुअ, बोलि कुछ नहि, मज़ा आ रहा है तु जोर से किये जा?मैं तेज़ि से अपना लुनद मोम के भूनसरे मेन अनदेर बहर करने लगा, मोम नीचे से अपना चूत उछल-उछल कर मेरे लुनद को अपने चूत मेन निगल रहि थि और पूरा मज़्ज़ा ले रहि थि मैने कहा आज मोविए कि तरह तुझे पुरा चोदुनगा, छोरुनगा नहि, और मैं अनदर तुफ़न बन गया।। मैं ज़ोरो के जथके दे रहा था और मोम चिला रहि थि। ? आआआआआअ ऊऊऊऊऊऊउआआआअ ?पल? स्सस स्सस स्सस।धिरे?। मैं मर गै।आआआआआ और धेरीईईईई?।आआआम्मम्मम्मीईईई ? ? मज़्ज़ाअ आआअ रहा है ।मुझीईईए ?? आ ह्हहा? मैं घचगच अपने लौरे को पेल रहा था।मैं भि क्सक्सक्समोविए कि तरह खुल गया था।चुदै कि रफ़तर मैने बधा दि मोम बोलि।।।।।ऊऊऊह्हह्ह।।।।।।।आआह्हह्हह।।।।।।।अब मज़ा अ रहा है और चोद ।।।।।ज़ोर से चोद।।।।।।फद दे इस हसीन चूत को।।।।।।।अपनि मा कि मसत चूत कि कसम तुने मुझे मसत कर दिया हैईइ। ।।।। कया मज़ा आया, आज तक नहि आया, तु तो अपने बाप का भि बाप निकला।। बदा तेज है रे।।।।।।।।ऊऊऊउईईई।।।।।तुम ने मुझे जन्नत पहुचदिया।।।।।मैन झर गयीईइ रे ।।।।।।।और मोम मेरे से लिपत कर बेद पर लेत गयी? थोदि देर बाद बोला मोम फिर से लगौ अब तेरि गनद मे, मैने अपनि अनगुलि घुसेदते हुए कहा, बोलि अब भि मन नहि भरा कया, मैं बोला आज तो सरि रात हमरि हि है, मोम के पैर उसि तरह फैला कर।मैने पीचे से मोम को अपने गोद मेन बिथा लिया और उनके फैले गानद मेन अपना मूसल घूसेर दिया, मेरा अधा हि घुसा था दूसरि तरफ़ एक पल के लियेतो अम्मा चतपता गयि।।।।।। ऊऊओह्हह्हह। ।।।।।।शह्हह्हह। ।।।।।बदा दरद हओ रहा है।।।।।।।बदे बेरहम हो तुम।।।।।।।आजि मेरि चूत और गानद दोनो अनदर से हिलदि तुने।।।।।और वो थोदा जोर लगते हि गुछह से मेरा लुनद उनकि गनद के अनदर तक चला गया इस बर मुझे भि कुच तकलि हुइ, पर मज़ा आ रहा ।अह्हह्हह।।।।।।।मेरि मा ।।।।।।।मुझे बचा ले ?मोम कि आवज निकलि ।सीईईई।हा अह्हह।।।।।।ऊऊओह्हह्हह।।।।।मेरि जान निकलि जा रहि है।।।।।कया करेगा।।।मैने कहा।।

मोम आज मैने तेरे सुनदर बदन ,सुनदर बूबस सुनदर बुर, कया गोल गोल चुतर के दरशन किये तुने कयो नहि पहले मुझे दिखया, आज का माज़ा बहुत जोरदर था तो तो सबसे जयदा सेक्सी है उस मोविए कि लदी स लदी से भि जयदा। और फ़िर कुच देर के धक्कोन के बाद मैं भि झदने के करीब आचुका था और मोम भि झदने वालि थि दोनो एक साथ हि झद गये और मोम और मैं वहिन बेद पर लेत गयेगये और मोम हाफ़ने लगि आज बहुत दिन बाद ऐसा मजा आया है बेता। और हुम दोनो अपस मे लिपते रहे सोते रहे मैं फिर उनके बूबस सहलने लगा। अब तो मोम बोलि कया फिर से दुध पिने कि इछा हो रहि है, और उनहोने अपने बूबस अगे करते हुए कहा ?पुचो मत ये दूध और दूधवलि सब तुमहरि हि है, जितना दूध पिना है पिलो? और मैने बिना रुके उसके मोते मोते सेक्सी बूबस दबाने लगा। उसे ज़ोरो से चुसने लगा, वो चिखने लगि, चुसो और ज़ोरो से, पिजओ सारा, बेता आआअ आआआ ईइ ईईइ अदूध।। ऊऊ ऊह ह्हह्हाआऐईईईईइ?? ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ? आआआआआअ। मैने अपनि चुसै जरि रखि, और वो मेरे लुनद से खेले जा रहि थि। मैने उसके बूबस और निप्पलेस चुस चुस के लाल कर दिये, अब मेरा लुनद फ़िर खदा हो गया था। मैने कहा येह फिर से तुमहरि चूत के अनदर घुमना चहता है, बोलि गुमओ ना किसने मना किया सरा हि अभि तुझे सौप दिया है।

(Visited 68 times, 20 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *